थाईलैंड की राजकुमारी के ‘‘सुंदर समुद्री राजकुमार’’ की मौत, बोले – इसने प्यार करना सिखाया

थाईलैंड की राजकुमारी के ‘‘सुंदर समुद्री राजकुमार’’ की मौत, बोले – इसने प्यार करना सिखाया बैंकॉक:  थाईलैंड में बचावकर्ताओं से

Read more

नोबेल पुरस्कार विजेताओं, अमेरिकी राष्ट्रपतियों, कई ग्लोबल सीईओ के बाद अब एक युवा भारतीय ने जीता 2019 का एलिस आइलैंड अवॉर्ड

  हाल ही में स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी पर इंटरनेशनल एलिस आइलैंड अवॉर्ड जीतने वाले अमिताभ सबसे युवा भारतीय नागरिक बन

Read more

आखिर दुनिया ने बोली भारत की भाषा, मसूद अजहर अंतरराष्ट्रीय आतंकी घोषित

मसूद अजहर ने पुलवामा, पठानकोट जैसे हमलों की साजिश रची थी, उसे कंधार प्लेन हाईजैक मामले में छोड़ा गया था

Read more

एचसीएल फाउंडेशन का सीएसआर प्रोजेक्ट 900 घरों को लगातार बिजली देने के लिए इन ग्रिड्स के रखरखाव में हर साल 3 करोड़ रु. का अतिरिक्त निवेश करेगा

देहरादून – 30 अप्रैल, 2019 – एचसीएल फाउंडेशन के महत्वाकांक्षी सीएसआर प्रोजेक्ट, समुदाय ने यूपी के हरदोई जिले के 15 गांवों में 14 सोलर मिनी ग्रिड की स्थापना के लिए पिछले एक साल में 30 करोड़ रु. से ज्यादा का निवेश किया है। इस निवेशका उद्देश्य 900 ग्रामीण घरों को लगातार बिजली उपलब्ध कराना है। संगठन इन ग्रिड्स के रखरखाव के लिए अगले पाँच सालों तक हर साल 3 करोड़ रु. भी खर्च करेगा। भारत में बिजली की कमी को पूरा करने के लिए सौर ऊर्जा का उपयोग करने के तरीकों पर एक राउंड टेबल वार्ता में बोलते हुए एचसीएल समुदाय के एसोशिएट प्रोजेक्ट डायरेक्टर, आलोक वर्मा ने मिनी-ग्रिड्स प्रोजेक्ट के विवरण दिए। उन्होंने कहा,‘‘एचसीएल समुदाय उत्तर प्रदेश सरकार के सहयोग से हरदोई जिले के तीन ब्लॉक्स – कछौना, बहंदर और कोठावन में सौर बिजलीकरण कार्यक्रम पर काम कर रहा ह.हमारा विश्वास है कि 15 गांवों में हमारे सौर पॉवर प्रोजेक्टों में गरीब पृष्ठभूमि के हजारों लोगोंकी जिंदगी में परिवर्तन लाने की सामर्थ्य है। सौर ऊर्जा के क्षेत्र में हमारे प्रयास भारत सरकार के इस विज़न के अनुरूप हैं कि देश की 40 प्रतिशत जरूरतें रिन्यूएबल संसाधनों से पूरी की जानी चाहिए। आलोक वर्मा ने कहा, ‘‘एचसीएल समुदाय में हमारा मानना है कि सुविधाओं से वंचित रहने वाले गांवों में सौर ऊर्जा पहुंचाकर हम अनेक संबंधित क्षेत्रों में भी गहरा प्रभाव डाल सकते हैं। इसमें स्वास्थ्य सुविधाओं और शैक्षिक संस्थानों के कार्य में सुधार, अंडरग्राउंड पाईप्स ठीक कर पेयजल उपलब्ध कराना, मिनी वॉटर पंपों को बिजली देकर कृषि में सहयोग और प्रोसेसिंग एवं रेफ्रिजरेशन सिस्टम को बिजली प्रदान करके मछली पालन, दूध उत्पादन आदि के माध्यम से आजीविका के साधन बढ़ाना शामिल है।’’ एचसीएल फाउंडेशन द्वारा आयोजित इस राउंडटेबल में भारत के रिन्यूएबल एनर्जी सेक्टर में काम करने वाले 70 से ज्यादा हाई-प्रोफाईल हितधारकों ने हिस्सा लिया, जिनमें डालमिया भारत फाउंडेशन के सीईओ, श्री विशाल भारद्वाज; श्नीदर इलेक्ट्रिक इंडियाफाउंडेशन के सीओओ, श्री अभिमन्यु साहू; सरल ऊर्जा नेपाल प्राइवेट लिमिटेड के मैनेजिंग डायरेक्टर, श्री बिशाल थापा; मार्ट के संस्थापक, श्री प्रदीप कश्यप; स्मार्ट पॉवर इंडिया के डायरेक्टर- प्रोग्राम इंप्लीमेंटेशन, श्री समित मित्रा और क्लैरो एनर्जी के को-फाउंडर एवं डायरेक्टर, श्री गौरव कुमार शामिल हैं। इस राउंडटेबल में जिन मुख्य समस्याओं पर वार्ता की गई, उनमें भारत में ऊर्जा के संकट का समाधान करने के लिए सतत बिज़नेस मॉडल की स्थापना, स्थानीय समुदायों के बीच उद्यमशीलता के दृष्टिकोण का विकास, ताकि वो विस्तार कर बिना किसी बाहरीमदद के सौर ग्रिड चला सकें और आर्थिक विकास को बढ़ावा देने के लिए एक परिवेश का निर्माण शामिल हैं। वक्ताओं ने जमीनी स्तर पर काम करने के अपने अनुभव बताए तथा कॉर्पोरेट, सरकार एवं नॉन-प्रॉफिट संगठनों के बीच सहयोग से सौर बिजलीकरणके कार्यक्रमों को मजबूत करने के तरीकों पर चर्चा की। एचसीएल फाउंडेशन के समुदाय प्रोजेक्ट का उद्देश्य छः मापदंडों पर केंद्रित होकर हरदोई में मॉडल ग्राम का विकास करना है। ये छः मापदंड हैं – बुनियादी ढांचा, कृषि की विधियां, आजीविका, वॉश (वाटर, सैनिटेशन एवं हाईज़ीन), स्वास्थ्य एवं शिक्षा। सौरबिजलीकरण कार्यक्रम इस प्रोजेक्ट के तहत समुदाय द्वारा चलाया गया एक बड़ा अभियान है। इसका उद्देश्य गांवों में, खासकर स्वास्थ्य केंद्रों और स्कूलों में बिजली की निरंतर आपूर्ति सुनिश्चित करना है। एचसीएल समुदाय के बारे में एचसीएल समुदाय की स्थापना 2014 में की गई। यह एचसीएल फाउंडेशन का एक प्रयास है, जिसका उद्देश्य एक सतत, स्केलेबल एवं दोहराने योग्य मॉडल का विकास करना है – ऐसा मॉडल, जो ग्रामीण क्षेत्रों में आर्थिक व सामाजिक विकास के लिए एकसोर्स कोड बने। वर्तमान में यह छः सेक्टरों – कृषि, शिक्षा, स्वास्थ्य, बुनियादी ढांचा, आजीविका एवं वॉटर, सैनिटेशन और हाईज़ीन (वॉश), में राज्य सरकार, ग्रामीण समुदायों, एनजीओ, शैक्षिक संस्थानों और सहयोगी संस्थानों की मदद से किया जा रहा है। इसप्रोजेक्ट का उद्देश्य उपरोक्त वर्णित छः सेक्टरों में चयनित किए गए गांवों में अथक प्रयासों द्वारा ग्रामीण भारत के उत्थान के लिए विकास के सतत मॉडलों की पहचान व निर्माण करना है।

Read more

भारतीय बाजार में लीगू का प्रवेश; स्टाइलिश स्मार्टफोन्स की सीरीज़ पेश की….

देहरादून- 29 अप्रैल, 2019- चीन के प्रमुख मोबाइल निर्माताओं में से एक, लीगू ने आज अपने स्टाइलिश स्मार्टफोन की एस

Read more

शशि थरूर ने वैलेंटाइन-डे पर प्रेमी जोड़ों को दी सलाह तो मुख्तार अब्बास नकवी बोले- भाई तो लव गुरू हैं

नई दिल्ली: कांग्रेस नेता शशि थरूर (Shashi Tharoor) ने वैलेंटाइन-डे (Valentines Day) के मौके पर प्रेमी जोड़ों को सलाह देते

Read more

एकता की प्रतीक है स्टैचू ऑफ यूनिटी।

भारत एक ऐसा देश है जिसके इर्द-गिर्द हिमालय पर्वत, अरेबियन महासागर, बे ऑफ बंगाल और इंडियन ओसियन जैसे स्थल है।

Read more

महिला ने 20 भूतों के साथ बताया सेक्स का अनुभव, किया चौंकाने वाला दावा

लंदन इंग्लैंड में कुछ दिनों पहले 20 भूतों के साथ सेक्स करने का दावा करने वाली महिला ऐमेथिस्ट रेल्म ने

Read more

सेक्स वर्कर को भी है ना कहने का अधिकारः सुप्रीम कोर्ट

नई दिल्ली अगर कोई सेक्स वर्कर है तो भी उसे यौन संबंध बनाने से इनकार करने का अधिकार है। राजधानी

Read more