इंटरनेशनल प्रोजेक्ट मैनेजमेंट एसोसिएशन (आईपीएमए) की ओर से प्रतिष्ठित ग्लोबल सम्मान।

स्टरलाईट पाॅवर को जम्मू-कश्मीर में एनआरएसएस-29 पाॅवर ट्रांसमिशन प्रोजेक्ट के लिए आईपीएमए ग्लोबल प्रोजेक्ट एक्सिलेंस अवार्ड मिला

 

     इंटरनेशनल प्रोजेक्ट मैनेजमेंट एसोसिएशन (आईपीएमए) की ओर से प्रतिष्ठित ग्लोबल सम्मान।

 

  एनआरएसएस-29 को प्रोजेक्ट के प्रबंधन एवं क्रियान्वयन के लिए सर्वश्रेष्ठ विधियां अपनाने के लिए मेगा प्रोजेक्ट श्रेणी में गोल्ड अवार्ड’ का सर्वोच्च सम्मान मिला।

देहरादून, 16 अक्टूबर, 2019:  पाॅवर ट्रांसमिशन में ग्लोबल लीडरस्टरलाईट पाॅवर को जम्मू-कश्मीर में अपनी नाॅर्दर्न रीज़न स्ट्रेंथनिंग स्कीम (एनआरएसएस-29) के लिए प्रतिष्ठित ग्लोबल प्रोजेक्ट एक्सिलेंस अवार्ड 2019 में मेगा साईज़्ड प्रोजेक्ट की श्रेणी में उल्लेखनीय गोल्ड अवार्ड दिया गया है। यह पुरस्कार मैक्सिको में 1 अक्टूबर, 2019 को आयोजित हुई 31 वीं आईपीएमए वल्र्ड कांग्रेस में दिया गया।

 

एनआरएसएस-29 प्रोजेक्ट देश में आज तक कमीशन किए गए सबसे बड़े व सबसे कठिन प्राईवेट सेक्टर ट्रांसमिशन प्रोजेक्ट्स में से एक था। राष्ट्रीय महत्व का यह 414 किलोमीटर लंबा ट्रांसमिशन काॅरिडोर जगह व मौसम की अत्यधिक कठोर चुनौतियों का सामना करते हुए बनाया गया। स्टरलाईट पाॅवर ने यह महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट टेक्नाॅलाॅजी का अभिनव उपयोग करते हुए स्थानीय समुदायों के साथ गहरी संलग्नता एवं सामंजस्यपूर्ण गठबंधन के साथ समय से पहले पूरा कर दिया। यह प्रोजेक्ट जम्मू-कश्मीर मेंखासकर सर्दियों के मौसम में भरोसेमंद बिजली प्रदान करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगाजब वहां अक्सर ब्लौक आउट होता रहा है। इस प्रोजेक्ट को इस साल फरवरी, 2019 में माननीय प्रधानमंत्रीश्री नरेंद्र मोदी ने देश को अर्पित किया।

 

इस उपलब्धि के बारे में श्री प्रतीक अग्रवालग्रुप सीईओस्टरलाईट पाॅवर ने कहा, ‘‘जम्मू-कश्मीर में 12.5 मिलियन लोगों की जिंदगी में प्रकाश लाने वाले एनआरएसएस-29 पाॅवर ट्रांसमिशन प्रोजेक्ट के लिए आईपीएमए से यह ग्लोबल सम्मान प्राप्त करना गर्व की बात है। हम अपने कर्मचारियों एवं पार्टनर्स की समर्पित टीम के लिए आभारी हैंजिन्होंने विशाल चुनौतियों का सामना करते हुए देश के सबसे कठिन ट्रांसमिशन प्रोजेक्ट्स में से एक समय से पहले पूरा करने के लिए अथक परिश्रम किया।

 

स्टरलाईट पाॅवर भारत की पहली पाॅवर ट्रांसमिशन कंपनी हैजिसे आईपीएमए से प्रतिष्ठित गोल्ड श्रेणी में पुरस्कार मिला है। इस प्रोजेक्ट को उद्योग की अन्य बड़ी हस्तियोंजैसे चाईना एनर्जी शेनयांग ग्रुप कं. लि.प्रिस्मियन पाॅवरलिंक एसआरएलइटली और पीटी. जेजीसी इंडोनेशिया के द्वारा कड़ी प्रतिस्पर्धा के बीच सर्वोच्च सम्मान मिला है। इंटरनेशनल प्रोजेक्ट मैनेजमेंट एसोसिएशन (आईपीएमए) नीदरलैंड्स में स्थित है और दुनिया का सबसे पुराना प्रोजेक्ट मैनेजमेंट एसोसिएशन है। आईपीएमए अवार्ड पूरी दुनिया के उन प्रोजेक्ट्स को दिया जाता हैजो प्रोजेक्ट मैनेजमेंट की उत्कृष्टता प्रदर्शित करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *