लग्रों इंडिया ने नानावटी हॉस्पिटल के साथ मिलकर हरिद्वार में टेलीमेडिसिन हेल्थ सेंटर ‘आरोगी’ का उद्घाटन किया

 

– खोजपरक प्रौद्योगिकी का उपयोग कर जाँच के लिये विशेषज्ञ चिकित्सकों को एक छत के नीचे लाया

– हेल्थ सेंटर की पहुँच हरिद्वार के भीतर और आस-पास लगभग छह गांवों तक होगी

हरिद्वार-बुधवार, 4 सितंबर 2019 – लग्रों इंडिया, 5.5 बिलियन यूरो के लग्रों ग्रुप के हिस्से और इलेक्ट्रिकल एवं डिजिटल बिल्डिंग इंफ्रास्ट्रक्चर में विशेषज्ञ, ने हरिद्वार में और आस-पास रहने वाले के लोगों के लिये अपने मेडिकल हेल्थ सेंटर की शुरूआत की है। भारत में अपनी इस सीएसआर पहल के हिस्से के तौर पर लग्रों ने नानावटी हॉस्पिटल, मुंबई के साथ मिलकर इस टेलीमेडिसिन सेंटर की स्थापना की है, जो टेलीकम्युनिकेशन द्वारा रोगियों की रिमोट जाँच और उपचार में मदद करेगा। नानावटी हॉस्पिटल के स्पेशलिस्ट डॉक्टर्स रोगियों की जाँच और परामर्श करेंगे। गरीबी रेखा से नीचे के लोग निशुल्क परामर्श सेवाएं ले सकते हैं।

लग्रों इंडिया ने वर्ष 2017 में जलगांव में अपने प्रथम टेलीमेडिसिन हेल्थ सेंटर आरोगी की स्थापना की थी। यह हेल्थ सेंटर अब तक बीपीएल समुदाय के 10000 से अधिक रोगियों को निशुल्क चिकित्सा सेवा प्रदान कर चुका है। मेडिकल और टेलीकम्युनिकेशन टेक्नोलॉजी में सर्वश्रेष्ठ के गठजोड़ वाला यह सीएसआर प्रोजेक्ट स्थायी और बड़े पैमाने का है, क्योंकि लग्रों अन्य जगहों पर इसे दोहरा सकता है। इस सुविधा से रोगी ऑडियोध् वीडियो टेलीकम्युनिकेशन टेक्नोलॉजी के जरिये रियल टाइम में डॉक्टर्स से जुड़ सकते हैं। रोगी जाँच के बाद बीपी, ब्लड टेस्ट, एक्स-रे, आदि जैसे हेल्थ डाटा को ऑनलाइन प्रस्तुत कर सकते हैं, जो सेंटर में उपलब्ध पैरामेडिकल स्टाफ की मदद से नानावटी हॉस्पिटल में बैठे डॉक्टर को उपलब्ध होगा। डॉक्टर और रोगी ऑडियो-वीडियो के जरिये रियल-टाइम में जुड़ सकते हैं। इस टेक्नोलॉजी से डॉक्टर डिजिटल स्टेथोस्कोप का उपयोग कर फेफड़ों और हृदय की जाँच कर सकते हैं और सही दवाएं बता सकते हैं।

इस अवसर पर लग्रों इंडिया के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एवं प्रबंध निदेशक श्री टोनी बरलैण्ड ने कहा, ‘‘व्यवसाय पारिस्थितिकी, लोग और पर्यावरण लग्रों ग्रुप के सीएसआर के तीन प्रमुख क्षेत्र हैं, इस लक्ष्य के अनुसार पहले लग्रों जलगांव और अब हरिद्वार में यह सीएसआर पहल समुदायों के स्वास्थ्य और तंदुरूस्ती में रणनीतिक सहयोग के लिये है।’’ उन्होंने आगे कहा, ‘‘प्रत्येक व्यक्ति के जीवन में स्वास्थ्य की बड़ी भूमिका है। कुछ रोगों में सही समय पर जाँच और परीक्षण जरूरी होता है। अपने विश्वव्यापी सीएसआर प्रयास के हिस्से के तौर पर हम भारत के पृथक समुदायों को टेलीहेल्थ सुविधाएं देने में संलग्न हैं। भारत में अब भी स्वास्थ्य सेवाओं तक लोगों की पहुँच पूरी नहीं है और इन पहलों के माध्यम से हम प्रौद्योगिकी का उपयोग कर लोगों की पहुँच बढ़ाना चाहते हैं। नानावटी सुपर स्पेशियल्टी हॉस्पिटल हमारे मेडिकल कंसल्टिंग पार्टनर के रूप में इस पहल को सहयोग दे रहा है और इस सेंटर को अपनी टीम से विशेषज्ञ डॉक्टर प्रदान कर रहा है, जिसके लिये हम उसे धन्यवाद देते हैं।’’

इन वर्षों में इस क्षेत्र के लिये कंपनी के सामुदायिक विकास प्रयासों के तहत सीएसआर की विभिन्न गतिविधियाँ हुई हैं, जैसे इलेक्ट्रिशियंस ट्रेनिंग (सीखने से पहले सराहना), इलेक्ट्रिशियंस स्किल डेवलपमेन्ट (प्रतिवर्ष 2500 इलेक्ट्रिशियंस का प्रशिक्षण), राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्रशिक्षण, पेशेवर कोर्स के लिये प्रवीण और योग्य विद्यार्थियों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा और पुनर्निर्माण तथा पुनर्वास के लिये आपदा राहत सहयोग (केरल और ओडिशा)। लग्रों इंडिया पर्यावरणीय उत्कृष्टता के उच्चतम मानक अर्जित करने के लिये भी प्रतिबद्ध है और इसके लिये भारत में सभी उत्पादन सुविधाओं में पर्यावरण के लिये स्थायी और प्रभावी परिचालन प्रणालियों को अपनाया गया है।

भारत में लग्रों समूह के विषय मेंरू

लग्रों इलेक्ट्रिकल और डिजिटल बिल्डिंग इंफ्रास्ट्रक्चर में ग्लोबल स्पेशलिस्ट है। फिर चाहे रेजिडेंशियल हो, या कॉमर्शियल और औद्योगिक, लग्रों हर प्रोजेक्ट के लिए संपूर्ण समाधान प्रदान करती है। फ्रांस के लिमोगेस में स्थित 5.5 बिलियन’ यूरो वाले इस समूह की 90 देशों में विनिर्माण सुविधाएं हैं और इसके उत्पादों को 180 से अधिक देशों में बेचा जाता है। वैश्विक स्तर पर, लग्रों क्रमशः 20ः और 14ः के बाजार हिस्सेदारी के साथ वायरिंग डिवाइसेज और केबल मैनेजमेंट में अग्रणी है। फ्रांस, इटली, रूस, ब्राजील, मेक्सिको, चीन और निश्चित रूप से भारत सहित कई देशों में लग्रों अपने प्रमुख व्यावसायिक क्षेत्रों में से कम से कम एक में लीडरशिप की स्थिति का आनंद उठा रहा है।

मार्केट सेगमेंट्स में कंपनी की भौगोलिक पहुंच, स्मार्ट समाधान के साथ ग्राहकों की नई आवश्यकताओं को पूरा करती है जो लग्रों को एक मल्टीपोलर समूह बनाते हैं और इस मल्टीपोलर प्रकृति व सुनने, डिजाइन, बनाने और सहयोग के वैश्विक दर्शन ने इसे अभिनव और स्मार्ट समाधान प्रदान करने में सक्षम बनाया है । लग्रों के उत्पाद बाजार में शीर्ष पर हैं और निर्विवाद रूप से इसकी ब्रांड इक्विटी है। लग्रों इंडिया उर्जा वितरण, वायरिंग डिवाइसेज, होम ऑटोमेशन, स्ट्रक्चर्ड कैबलिंग, यूपीएस, प्रकाश प्रबंधन समाधान, केबल मैनेजमेंट और इंडस्ट्रियल एप्लीकेशन प्रोडक्ट्स की श्रेणियों में उत्पादों की एक विस्तृत रेंज प्रदान करता है।

यह एमसीबी, आरसीडी और डीबी में एक निर्विवाद लीडर और वायरिंग डिवाइसेज में नंबर 2 की मजबूत स्थिति में है। इसके अलावा, कंपनी होम ऑटोमेशन, एमसीसीबी और केबल मैनेजमेंट सिस्टम्स में एक उल्लेखनीय स्थिति भी रखती है।

लग्रों के उत्पाद और सेवाएं सादगी के तीन मानदंडों का पालन करती हैं – इस्तेमाल में सादगी, इन्स्टॉलेशन में सादगी और डिस्ट्रीब्यूशन में सादगी – जो कंपनी को नए बाजारों में तेजी से प्रवेश करने में सक्षम बनाती है। भारत में 6000 से अधिक कर्मचारियों के आधार के साथ, ग्रुप लग्रों स्थानीय बाजार में हर सेगमेंट के अनुरूप उत्पादों और सेवाओं को विस्तारित करके अपने मुख्य व्यवसाय में लीडर के रूप में उभर रहा है। मुंबई में अपने मुख्यालय के साथ लग्रों 5 ग्रुप कंपनियों, 54 कार्यालयों, 1000 स्टॉकिस्ट, 14000 खुदरा आउटलेट, 50 अलग-अलग उत्पाद परिवार, 14 अत्याधुनिक विनिर्माण इकाईयों, 13 प्रशिक्षण केंद्रों और एक आरएंडडी केंद्र के माध्यम से पूरे भारत में संचालित है। लग्रों में आरएंडडी टीम का फोकस कम्युनिकेटिंग सिस्टम्स, क्लेवर इन्स्टॉलेशन आइडिया आदि तैयार करने के लिए तकनीकी नवाचार, सरल व तीव्र उत्पाद संयोजनों पर केंद्रित है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *