विनय शंकर ,रामभुआल और मुरली मनोहर और मनुरोजन के कंधे पर बांसगांव की जिम्मेदारी

विनय शंकर ,रामभुआल और मुरली मनोहर और मनुरोजन के कंधे पर बांसगांव की जिम्मेदारी 

जी यहाँ बात बांसगांव लोकसभा की बताते चले पिछली बार मोदी लहार में जीते कमलेश पासवान के प्रति जनता में आक्रोश और गठबंधन की मजबूत किलेबंदी ने इस बार बीजेपी के माथे पाए पसीना ला दिया है
बताते चले पिछली विधानसभा के चुनाव के वोटो की अगर बात करे तो चिल्लूपार में सपा बसपा का कुल योग १३४००० ,बांसगांव में कुल वोट ९३००० ,चौरीचौरा में कुल ७९००० रुद्रपुर में कुल ७३००० बरहज में कुल ७९००० बैठता है जिसके मुकाबले बीजेपी क्रमश ७४०००,७१००० ८७०००,७७००० और ६२००० थी देखा जाये गठबंधन का कुल वोट तक़रीबन ९०००० ज्यादे बैठता है .उस पर क्षेत्र में लोगो का स्थानीय सांसद के प्रति लोगो का गुस्सा भी बसपा प्रत्याशी दूधराम की राह आसान कर रहा है ,करीब ४ लाख दलित ,ढाई लाख यादव ,२ लाख मुस्लिम भी गठबंधन के साथ लगे है ,इस पर चिल्लूपार में बसपा विधायक विनय शंकर ,रामभुआल निषाद ,बरहज में मुरली मनोहर जायसवाल का साथ मजबूती दे रहा है वही चौरीचौरा में अखिलेश के खास सिपाही मनुरोजन यादव भी मजबूती से गठबंधन का झंडा बुलंद करने के लिए दिन रत एक किये है ,सपा बसपा की एकता यहाँ निश्चित रूप से मजबूत है ,क्षेत्र के राम पासवान,धीरज पासवान ,मनोज शर्मा ,संजय सिंह और दीपक शर्मा बताते है की सपा बसपा के साथ आने से जमिनी स्तर पे सपा बसपा के उम्मीदवार बेहद मजबूत दिख रहे है लोग यह भी चर्चा कर रहे है की कांग्रेस बीजेपी के हो वोट में सेंध लगाएगी जो बीजेपी के लिए परेशानी बनेंगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *